किसान की मौत से भड़का सीयूमो

पिथौरागढ़। बेरीनाग क्षेत्र किसान की आत्महत्या से जनाक्रोश फूट पड़ा। इस हादसे से नाराज सीयूमो ने केंद्र और राज्य सरकार का पुतला फूंका। इस दौरान सीयूमो ने केंद्र और प्रदेश सरकार पर किसानों की उपेक्षा करने का आरोप लगाया। शुक्रवार को डोल डुंगरी गांव में किसान सुरेंद्र सिंह के आत्महत्या किए जाने से नाराज सीमांत यूथ मोर्चा के कार्यकर्ता सिमलगैर बाजार में एकत्रित हुए। उन्होंने सीयूमो के प्रदेश प्रवक्ता राहुल खत्री के नेतृत्व में प्रदेश व केन्द्र सरकार का पुतला फूंका। इस दौरान सीयूमो कार्यकर्ताओं ने केंद्र और प्रदेश सरकार के खिलाफ नारे लगाए। खत्री ने कहा कि आपदा से हुए नुकसान के बाद प्रदेश के किसान आत्महत्या कर रहे हैं। इसके बावजूद केंद्र और प्रदेश सरकार किसानों का ऋण माफ न कर मूक दर्शन बनी हुई है। कहा कि इससे पूर्व एमपी के मदसौर में मुआवजे की मांग कर रहे किसानों की गोली मारकर हत्या कर दी गई। जो निंदनीय है। मोर्चा ने किसान के परिजनों को शीघ्र 50 लाख की मदद देने की मांग की। इस मौके पर सुरेश जोशी, नवीन शर्मा, ईमरान अली, योगेश, कैलास कठायत, सूरज बिष्ट, अजय, धर्मेंद्र, अरबाज, अंशु सिंह, रौनित अंसारी, पवन नाथ सहित कई शामिल रहे। कई संगठनों ने जताया दु:ख पिथौरागढ़। किसान की आत्महत्या पर जिले के कई संगठनों ने गहरा दु:ख व्यक्त किया है। कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार को किसानों की समस्याओं को देखते हुए शीघ्र उनका ऋण माफ करना चाहिए। उक्रांद के वरिष्ठ नेता काशी सिंह ऐरी ने कहा कि प्रदेश सरकार को किसानों की समस्याओं से कोई सरोकार नहीं रह गया है। कहा कि एक कृषि प्रधान देश में इस तरह किसानों का आत्महत्या के लिए मजबूर होना ठीक नहीं है। जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष मोहन चन्द्र भट्ट ने घटना की तीखे शब्दों में भर्त्सना की है। उन्होंने सरकार से किसान के परिजनों को शीघ्र मुआवजा देने की मांग की है।

Facebook Comments

Random Posts