एबीवीपी के एक छात्रनेता को भारी पड़ा पोस्टर चिपकाना हुआ मुकदमा

 

करनपुर पुलिस चौकी की दीवार पर पोस्टर चिपकाना एबीवीपी के एक छात्रनेता को भारी पड़ गया। डालनवाला पुलिस ने उक्त नेता के खिलाफ उत्तराखंड लोक संपत्ति निवारण अधिनियम 2003 के तहत मुकदमा दर्ज किया है। साथ ही पुलिस ने छात्र नेताओं से अपील की है कि वे लिंगदोह कमेटी के नियमों के तहत ही प्रचार-प्रसार करें और सरकारी संपत्तियों और सार्वजनिक स्थलों पर पोस्टर आदि न चिपकाएं।

पोस्टर चिपकाना पड़ा मंहगा : मुकदमा

जनपद के सबसे बड़े महाविद्यालय में छात्रसंघ चुनाव का बिगुल बज चुका है। विभिन्नसंगठनों के साथ ही निर्दलीय उम्मीदवारों ने अपने पक्ष में माहौल बनाना शुरू कर दिया है। कॉलेज व आसपास के क्षेत्रों में छात्रों के पोस्टर बैनर पाटे जा रहे हैं। निजी हो या सरकारी सभी स्थानों पर छात्र नेता प्रचार सामग्री चस्पा करने से नहीं चूक रहे हैं। सरकारी संपत्तियों पर पोस्टर बैनर लगाना प्रतिबंधित होने के बावजूद छात्रनेता बाज नहीं आ रहे हैं। करनपुर चौकी की दीवार पर भी एबीवीपी के छात्रनेता सचिन नैथानी के पोस्टर पाट दिए गए। चौकी प्रभारी करनपुर राजेंद्र सिंह पुजारा ने बताया कि एबीवीपी के छात्रनेता सचिन नैथानी के प्रचार के लिए चौकी की दीवार पर पोस्टर चस्पा कर दिए गए। जो उत्तराखंड लोक संपत्ति निवारण अधिनियम 2003 के तहत अपराध है। इसलिए उनके खिलाफ अधिनियम के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया है। जांच उपनिरीक्षक महावीर सिंह को सौंपी गई है।

 

जबरन चंदा वसूलने वालों की तत्काल थाने को दें सूचना

देहरादून: थाना डालनवाला पुलिस ने चुनाव की आड़ में जबरन चंदा वसूलने वालों पर शिकंजा क सना शुरू कर दिया है। पुलिस ने पेट्रोल पंप मालिकों, होटल संचालकों व अन्य व्यवसायिक प्रतिष्ठानों से अपील है कि अगर कोई भी छात्रसंघ चुनाव के नाम पर दबाव बनाकर चंदा लेने की कोशिश करता है तो वह इसकी सूचना तत्काल थाने को उपलब्ध कराएं। ऐसे छात्रनेताओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Facebook Comments

Random Posts