अयोध्या मामले केस सुनवाई 2 सप्ताह टली

0

अयोध्या में विवादित ढांचा विध्वंस मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में एक बार फिर टल गई है। मामले में सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने सभी पक्षों को लिखित तौर पर अपना पक्ष रखने का आदेश दिया।इस मामले में भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी, डॉ. मुरली मनोहर जोशी, केंद्रीय मंत्री उमा भारती और विहिप के अन्य नेताओं पर आपराधिक साजिश का मुकदमा चलाने की मांग की गई है। इससे पहले बुधवार को न्यायाधीश आरएफ रोहिंग्टन के पीठ में शामिल न होने के कारण सुनवाई एक दिन के लिए टल गई थी। इस बीच भाजपा नेता सुब्रह्माण्यम स्वामी ने कहा है कि राम जन्मभूमि विवाद के हल के लिए हमारी समय सीमा अप्रैल 2018 है।सुप्रीम कोर्ट के न्यायमूर्ति पीसी घोष और न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता की पीठ ने सुनवाई एक दिन के लिए टालते हुए कहा कि इस मामले की सुनवाई कर रही पीठ उपलब्ध नहीं है। गुरुवार को पीठ में वे ही न्यायाधीश होंगे जिन्होंने इसकी पहले सुनवाई की है। हालांकि कोर्ट ने लालकृष्ण आडवाणी और अन्य भाजपा नेताओं की पैरवी कर रहे वकील केके वेणुगोपाल की मामले की सुनवाई चार सप्ताह के लिए टाले जाने की मांग नहीं मानी।

Facebook Comments

Random Posts