हिमाचल में बीजेपी का घोषणापत्र जारी, सीएम पर सस्पेंस

हिमाचल में विस चुनाव के लिए बीजेपी ने अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है। शिमला में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने यह घोेषणापत्र जारी किया। जेटली के साथ इस मौके पर राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल भी मौजूद थे। पार्टी ने अपने विजन डॉक्युमेंट (घोषणापत्र) को ‘स्वर्णिम हिमाचल दृष्टि पत्र’ नाम दिया है। इसमें शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार जैसी बुनियादी जरूरतें पूरी करने के लिए कदम उठाने का वादा किया है। पर्यटन के क्षेत्र में भी विकास करने के लिए कई योजनाएं लागू करने की बात इस पत्र में कही गई है।

वहीं, अरुण जेटली ने पार्टी की ओर से सीएम पद के उम्मीदवार के बारे में कहा है कि हमारे किसी बहुत अनुभवी नेता को ही चुनाव जीतने पर मुख्यमंत्री बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह फैसला पार्टी करेगी कि सीएम उम्मीदवार का नाम चुनाव से पहले घोषित किया जाए या फिर चुनावों के बाद इसे तय किया जाए। पत्र में सबसे पहले भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए कई सुविधाएं देने की बात कही गई है। सीएम कार्यालय में होशियार हेल्पलाइन, चोरी, नशे की रोकथाम के लिए मेजर सोमनाथ वाहिनी का गठन करने की योजना बनाई गई है। अवैध खनन से निपटने के लिए उच्च स्तरीय जॉइंट टास्क फोर्स बनाई जाएगी।

पार्टी ने पीने के साफ पानी, सड़क-निर्माण और आपातकालीन स्थितियों के लिए हेलि-ऐंबुलेंस की सेवा शुरू करने की घोषणा पत्र में की गई है। वहीं रोजगार के क्षेत्र में ग्रेड 3 और 4 की नौकरियों के लिए साक्षात्कार बंद कर योग्यता के आधार पर नियुक्ति करने की बात कही गई है। कॉलेज के छात्रों के लिए लैपटॉप, टैबलेट, वाई-वाई और नौकरी दिलाने के लिए वार्षिक मेले लगाने का वादा किया गया है। बीपीएल परिवारों के छात्रों को स्नातक स्तर तक निशुल्क शिक्षा देने की बात भी कही गई है।

पार्टी ने साल 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने का वादा किया है। सब्सिडी बढ़ाई जाएगी और उन्हें प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत लाया जाएगा। भूमि अधिग्रहित करने पर सरकार द्वारा दिया जाने वाला मुआवजा 4 गुना कर दिया जाएगा। एक बागवानी विश्वविद्यालय स्थापित करने की घोषणा भी की गई है। पर्यटन की दृष्टि से राज्य को लाभ दिलाने के लिए नए पर्यटन स्थलों के विकास की योजना पार्टी ने बनाई है। प्रचलन में आ रहे ग्रामीण पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए नए गांवों में होम-स्टे खोले जाएंगे। धार्मिक और स्वास्थ्य पर्यटन के लिए भी कोष स्थापित करने की घोषणा की गई है।

महिला सुरक्षा के लिए गुड़िया योजना के तहत महिला पुलिस थाने और हेल्पलाइन की स्थापना की जाएगी। वहीं महिलाओं के लिए सशक्त स्त्री केंद्र भी हर पंचायत में बनाए जाएंगे। पार्टी ने अपना घर योजना के तहत 2022 तक हर गरीब को घर देने का वादा किया है। मजदूरों को अधिक न्यूनतम दिहाड़ी देने और असंगठित श्रमिकों को अटल पेंशन योजना के अंतर्गत पेंशन देने की बात भी कही गई है।

 

Facebook Comments

Random Posts