चुनाव आयोग पर रिश्वत लेने का आरोप लगाने पर फंसे केजरीवाल, दर्ज हो सकती है एफआईआर!

000

 

निर्वाचन आयोग पर कथित रूप से रिश्वत लेने का बयान देने के लिए आयोग ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने को कहा है. आयोग ने गोवा में निर्वाचन अधिकारियों को आदेश दिया कि राज्य में एक चुनावी रैली में केजरीवाल के आपत्तिजनक बयानों के खिलाफ ये कार्रवाई की जाए. आयोग ने कहा है कि केजरीवाल चुनाव से पहले रिश्वखोरी को बढ़ावा देने वाले बयान जारी रखते हैं, तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

आयोग ने केजरीवाल के इस दावे को भी ‘अपमानजनक’ करार दिया कि आयोग उन्हें इस तरह के बयान देने से रोककर रिश्वतखोरी को बढ़ावा दे रहा है. आयोग ने कहा कि ‘आप’ नेता के खिलाफ जन प्रतिनिधित्व कानून में मतदाताओं को रिश्वत देने से संबंधित प्रावधान और आईपीसी की संबंधित धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की जाए. चुनाव आयोग के मुताबिक गोवा में आम आदमी पार्टी के स्टार प्रचारक होने के नाते केजरीवाल से चुनाव प्रचार में कानूनी तरीके से सराहनीय काम करने की उम्मीद की जाती है ताकि वो दूसरों के लिए भी आदर्श बनें.

लेकिन आयोग का कहना था कि उन्होंने कई बार चुनाव आयोग को दिए आश्वासन को तोड़कर आदर्श आचार संहिता के प्रावधानों का उल्लंघन किया है. आयोग ने कहा कि हम निर्देश देते हैं कि बयानों के लिए अरविंद केजरीवाल के खिलाफ प्राथमिकी-शिकायत दर्ज करके जरूरी कानूनी कार्रवाई शुरू की जाए. इस संबंध में अनुपालन रिपोर्ट आयोग को 31 जनवरी को तीन बजे तक भेजी जानी चाहिए.

Facebook Comments

Random Posts