डबल इंजन वाली सरकार का पहला झटका

0

देहरादून। डबल इंजन वाली भाजपा सरकार के पहले झटके ने लोगों को बुरी तरह हिला कर रख दिया है। कंरट के बढ़े बोझ ने लोगों को बेहोशी के आलम में लाकर खडा कर दिया है। मौजूदा त्रिवेन्द्र सिंह रावत सरकार ने प्रदेशवासियों को पहला झटका बिजली के बढ़ी हुई दरों के रुप में देने का काम किया है। लोगों की प्रतिक्रिया से यह साफ है कि वे इस फैसले से न तो खुश हैं और न ही इसके लिए वे तैयार हैं। पीएम मोदी के वायदे के विपरीत मौजूदा भाजपा की प्रदेश सरकार से लोग काफी ना ख्ुाश दिखाई दे रहे हैं। लोग इसे लेकर अभी से मुखर होने लग गए हैं। जो प्रदेश सरकार के लिए किसी भी तरह से श्ुाभ से संकेत नहीं हैं। प्रदेश के विकास को रफतार देने के किमत उन्हें अपनी जेबे ढीली कर चुकाना पडेगा, ऐसे उन्होंने कभी सपने में नहीं सोचा था। विकास के नाम पर वे और महंगाई का बोझ झेलने को कतई तैयार नहीं दिख रहे हैं।  त्रिवेन्द्र सिंह रावत सरकार ने बिजली के दामों में 1 अप्रैल 2017 से 5.72 प्रतिशत की बढ़ोतरी की है। राज्य के करीब बीस लाख उपभोक्ताों पर इसका सीधा असर आम आदमी की गाढी कमाई पर पर पडता दिख रहा है। लोगों ने इस पर अपनी तीखी प्रतिक्रिया भी दी है। लोगों का यहंा तक कहना है कि विद्युत विभाग के कुछ भ्रष्ट अधिकारियों द्वारा अवैध कनेक्शन एंव उद्योगों को संरक्षण देने का ही नतीजा है कि विभाग लगातार घाटे में जा रहा है। विभाग बिजली के लागत की भरपाई आम जनता से वसूलना चाहता है, जो सरासर गलत है।

Facebook Comments

Random Posts