मुख्यमंत्री ने गंगा हाफ मैराथन को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

p-1500

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने द्वितीय माॅ गंगा हाफ मैराथन दौड़ का रोशनाबाद से शुभारम्भ करते हुए हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने कहा कि माॅ गंगा हाफ मैराथन के आयोजन का मुख्य उद्देश्य माॅं गंगा की सफाई एवं स्वच्छता को फोकस करने हेतु संदेश को जन-जन तक पहुंचाने, प्राकृतिक आपदा से उभरते के लिए सुरक्षात्मक उत्तराखण्ड के संदेश एवं लोगों में सामुहिकता की भावना का वातावरण पैदा करना है। हरीश रावत ने कहा कि किसी भी देश एवं राज्य की तरक्की तभी संभव है जब लोगों में सामुहिकता की भावना हो और एक-दूसरे के साथ सहयोग की भावना से कार्य किया जाए। उन्होंने कहा कि माॅ गंगा हाफ मैराथन को अगले पांच सालों में नेशनल इवेन्ट बनाने के लिए राज्य सरकार प्रयास कर रही है ।

हाफ मेराथन दौड़ कलक्ट्रेट चैक रोशनाबाद से प्रारम्भ होकर नवोदय चैक, पी.आर.डी. आॅफिस, महिन्द्रा तिराहा, श्विालिक नगर, चन्द्राचार्य चैक, देवपुरा चैक, डाम कोठी, अलकनन्दा होटल से होते हुए सी.सी.आर. पर समाप्त हुई। जिसमें सभी आयुवर्ग के प्रतिभागियों ने भाग लिया। हाफ मेराथन दौड़ में प्रथम ग्यारह स्थान प्राप्त करने वाले पुरूषों एवं महिलाओं तथा वैटरन को पुरस्कृत किया। पुरूष एवं महिला वर्ग में प्रथम तीन स्थान प्राप्त करने वाले धावकों को क्रमशः एक लाख, पिचहत्तर हजार, पचास हजार की धनराशि प्रदान की गई। जबकि वेटरन को क्रमशः पच्चीस हजार, बीस हजार एवं दस हजार रूपये की धनराशि प्रदान की गई। सांत्वना पुरस्कार के रूप में पुरूष एवं महिला वर्ग में चैथे से ग्यारहवें स्थान तक के धावकों को 10-10 हजार रूपये की धनराशि प्रदान की गई। जबकि वेटनर को 05-05 हजार रूपये की धनराशि प्रदान की गई।

इस हाफ मैराथन दौड़ में पुरूष वर्ग में आर्मी सेन्टर हैदराबाद के सतेन्द्र सिंह ने प्रथम स्थान, सुल्तानपुर उत्तरप्रदेश के रविन्द्र कुमार ने द्वितीय तथा आर्मी सेन्टर हैदराबाद के विरेन्द्र कुमार ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। महिला वर्ग में बुलन्दशहर की मीनू ने प्रथम, हल्द्वानी की अनीता चैधरी ने द्वितीय तथा मुजफ्फरनगर की अरपिता सैनी ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। जबकि वेटरन में दिल्ली के दिनेश कुमार ने प्रथम, उत्तराखण्ड परिवहन के मुकेश राणा ने द्वितीय एवं पानीपत के सुरेन्द्र कुमार ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

Facebook Comments

Random Posts