महकमे तय करें हल्द्वानी का पानी पीने लायक है या नहीं…

0

जिले में जहां एक ओर संक्रमण जनित बीमारियों के रोगियों की तादाद बढ़ती जा रही है वहीं दूसरी ओर पेयजल की गुणवत्ता को लेकर नया विवाद सामने आया है। जिला स्वास्थ्य महकमे के अनुसार जल संस्थान केवल गौला नदी के फिल्टर किये पानी की रिपोर्ट भेजता है , वहीं दूसरी ओर जल संस्थान के अधिकारी का कहना है जिला स्वास्थ्य महकमे को गौला और नलकूप दोनों के पानी की रिपोर्ट भेजी जाती है। जिला स्वास्थ्य महकमे की हालिया रिपोर्ट के अनुसार हल्द्वानी के जल संस्थान पानी की रिपोर्ट तो भेजता है लेकिन उसमें नलकूप के पानी की रिपोर्ट नहीं होती है। हालांकि जल संस्थान की भेजी गयी रिपोर्ट को पूरी तरह से जिला संक्रामक रोग अधिकारी एनके कांडपाल ने सही बताया है और कहा है कि हल्द्वानी के जल संस्थान का पानी पीने योग्य है लेकिन उन्होंने बताया कि जल संस्थान अपने विभाग के अंतर्गत उन नलकूपों की रिपोर्ट नहीं भेजता जिनसे पेयजल सप्लाई की जाती है। इधर जल संस्थान के अधिशासी अभियंता संतोष उपाध्याय ने कहा है कि जिला स्वास्थ्य महकमे के इस दावे में दम नहीं है। जल संस्थान गौला नदी के फिल्टर पानी और नलकूप के पानी दोनों की रिपोर्ट भेजता है हालांकि रिपोर्ट में इसे अलग से नहीं दिखाता। अब किस विभाग के दावे में दम है यह तो वही जाने लेकिन एक सच यह भी है कि हल्द्वानी शहर के लोगों में संक्रामक बीमारियां बढ़ती जा रही हैं जिसका एक बड़ा कारण दूषित जल भी है।

Facebook Comments

Random Posts