हरिद्वार के जंगल में मिले लाखों रुपए

note500
हरिद्वार के जंगल में मिले लकड़ियां लेने गई महिलाओं को बंद हो चुके पांच सौ और हजार के लाखों रुपए मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई है। रुपए के बंटवारे को लेकर हुए विवाद से पुलिस तक यह सूचना पहुंची। आयकर विभाग को सूचित कर दिया गया है और मामले की जांच शुरू हो गई है।

राजाजी नेशनल पार्क की सीमा से सटे एआरटीओ कार्यालय के पीछे मजदूरों को झाड़ियों में चार लाख 58 हजार पांच सौ रुपये के पुराने नोट मिले हैं। सभी नोट पांच सौ और एक हजार रुपये के हैं। बस्ती में लौटकर बंटवारे के वक्त पुलिस ने ये नोट बरामद कर जब्त किये। इस सिलसिले में सिडकुल थाना पुलिस नौ महिलाओं समेत दस मजदूरों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। एसएसपी राजीव स्वरूप ने बताया कि आयकर विभाग को सूचित कर दिया गया है और मामले की जांच शुरू कर दी गई है।

रविवार की सुबह रोशनाबाद ग्राम में किराये के मकान में रहने वाली दस महिलाएं और एक युवक राजाजी पार्क के जंगल में लकड़ी बीनने गए थे। वहां उन्हें झाडियों में बंद हो चुके पांच सौ और एक हजार रुपये के नोट मिले। कुछ नोट प्लास्टिक की थैली में और कुछ जमीन पर बिखरे हुए थे। नोटों पर सबसे पहले एक महिला की नजर पड़ी। वह चुपचाप नोट समेट कर अपने दुपट्टे में रखने लगी तभी, बाकी महिलाओं की नजर भी उस पर पड़ गई। फिर क्या, मजदूरों में नोटों को समेटने के लिए छीना झपट्टी शुरू हो गई। उनमें तय हुआ कि सभी मिलकर नोट इकट्ठा करेंगे और घर जाकर आपस में लेंगे।

अपराह्न करीब दो बजे सभी दस मजदूर अपने घर लौटे और एक कमरे में बैठकर नोटों का बंटवारा करने लगे। इसी बीच, किसी ने पुलिस कंट्रोल को सूचना नोटों के बारे में सूचना दी जिसके बाद सिडकुल थानाध्यक्ष ऋतुराज सिंह रावत, चैकी प्रभारी कुलदीप कुमार पुलिस टीम के साथ वहां पहुंचे और उन्होंने उक्त मकान में किराये पर और आसपास के घरों में रह रही कुछ महिलाओं के साथ ही एक युवक को हिरासत में ले लिया।

लेकिन पुलिस के पहुंचने से पहले वह आपस में रुपयों को बंटवारा कर चुके थे। पुलिस के रुपयों के बारे में पूछताछ करने पर वह पहले तो टहलाने की कोशिश करने लगे, लेकिन सख्ती करने पर सब कुछ सही-सही बता दिया। उनके पास से पुलिस ने चार लाख 58 हजार पांच सौ रुपये बरामद किये।
एसएसपी राजीव स्वरूप ने बताया कि मजदूरों से एक हजार के 181 और पांच सौ के 555 नोट बरामद हुए हैं। यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि ये नोट कैसे जंगल तक पहुंचे। सिडकुल क्षेत्र और आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज भी चेक किए जा रहे हैं। कहीं और भी नोट हों, यह पता लगाने के लिए कांबिंग भी की गई।

Facebook Comments

Random Posts