एनएच 74 के मुआवजा घोटाले की जांच मैं तेजी डबल लॉक में रखे दस्तावेज खंगालेगी – सी बी आई

उतराखंड /देहरादून,
एनएच 74 के मुआवजा घोटाले की जांच कर रही एसआईटी अब जल्द ही डबल लॉक में रखे दस्तावेज हासिल कर लेगी। दस्तावेज की क्या प्रक्रिया अपनाई जाए? इसके लिए अफसरों की बैठक अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) के दफ्तर में हुई। बैठक में तय किया गया कि पुलिस व प्रशासनिक अफसरों की मौजूदगी में दस्तावेजों की प्रमाणित फोटोकापी एसआईटी को सौंपी जाएगी। जांच में पारदर्शिता लाने को डबल लॉक परिसर में कई सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं जो हर गतिविधि को कैद करेंगे।
एसआईटी को जल्द मिल सकमे हैं डबल लॉक के दस्तावेज
एनएच घोटाले की जांच कर रही एसआईटी ने उन सभी आरोपियों के बयान दर्ज कर लिए हैं, जिनकी जांच आगे बढ़ाने के लिए जरूरत थी। शुक्रवार को अपर जिलाधिकारी प्रताप शाह के दफ्तर पहुंची एसपी क्राइम कमलेश उपाध्याय एवं सीओ नवीन चंद्र ने अफसरों के साथ बैठक करके डबल लॉक में रखे दस्तावेज निकालने के लिए अपनाई जाने वाली प्रक्रिया पर चर्चा की। बैठक में मौजूद मुख्य कोषाधिकारी भूपेंद्र कांडपाल ने बताया कि कोषागार परिसर में सीसीटीवी कैमरे लगवा दिए गए हैं। अपर जिलाधिकारी प्रताप शाह ने कहा कि पुलिस अधिकारियों को जिन दस्तावेजों की जरूरत होगी उनकी सत्यापित फोटोप्रति उपलब्ध कराई जाएगी। मूल दस्तावेज डबल लॉक में ही रहेंगे। एसपी क्राइम कमलेश उपाध्याय ने बताया कि एसआईटी शीघ्र ही दस्तावेज कब्जे में लेकर जांच को गति देगी। बैठक में एसएलएओ एबी नबियाल, अपर जिलाधिकारी नजूल जदगीश कांडपाल भी मौजूद थे। माना जा रहा है कि सोमवार से एसआईटी डबल लॉक में रखे दस्तावेज को कब्जे में लेना शुरू करेगी।
गौरतलब है कि एनएच 74 में मुआवजा वितरण में करीब तीन सौ करोड़ का घोटाला हुआ है। एक सिंडीकेट ने जमीनों को भू उपयोग परिवर्तित कराकर दस गुना तक अधिक मुआवजा लिया। इसमें आधा दर्जन पीसीएस अफसर निलंबित हो चुके हैं। हालांकि मामले की जांच सीबीआई से कराने की घोषणा हो चुकी है, लेकिन अभी अधिसूचना जारी नहीं होने के कारण एसआईटी ही अपनी विवेचना जारी रखे हुए है।

Facebook Comments

Random Posts