केदारनाथ धाम में चल रहा है रसीद का फ़र्ज़ीवाड़ा,?

 

mohit-dimri

    मोहित  डिमरी/

केदारनाथ धाम में चल रहा है फ़र्ज़ीवाड़ा, फ़र्ज़ी रसीद बनाकर खेला जा रहा खेल, मंदिर समिति को लग रहा करोड़ों रुपए का चूना
इन दिनों चारधाम यात्रा चरम पर चल रही है। बड़ी संख्या में तीर्थयात्री धामों की यात्रा कर रहे हैं। तीर्थ यात्रियों की संख्या का फ़ायदा उठाकर कई दलाल क़िस्म के लोग अपनी चाँदी काट रहे हैं। दरअसल इन लोगों ने बदरी-केदार मंदिर समिति की तरह ही फ़र्ज़ी रसीद बुक छपवाई हुई है। यात्रियों को फ़र्ज़ी रसीद देकर जमकर लूटा जा रहा है। प्रत्येक यात्री से 21 सौ रुपए लिए जा रहे हैं। एक रसीद से आठ से दस लोगों को प्राथमिकता के आधार पर दर्शन कराए जा रहे हैं। यानी सीधे 20 हज़ार की कमाई। जबकि यह काम मंदिर समिति का है। लेकिन कुछ लोग इस गोरखधंधे में अपनी जड़े मजबूत कर चुके हैं. इनका अभी तक बाल भी बाँका नहीं हुआ है। जो कमाई मंदिर समिति की होनी थी, वह सीधे-सीधे दलालों की हो रही है। इस बड़े खेल में कई बड़े लोग शामिल होने की बात सामने आ रही है। इन लोगों ने मंदिर समिति की फ़र्ज़ी मोहर भी बनाई हुई है।

mohit-2

आप सभी की जानकारी की लिए बता दूँ कि मंदिर समिति प्राथमिकता के आधार पर दर्शन के लिए प्रत्येक यात्री से 2100 रुपए लेती है। इसकी बाक़ायदा यात्री को रसीद दी जाती है। लेकिन यही काम कुछ लोग फ़र्ज़ी रसीद बनाकर कर रहे हैं। स्थानीय लोग चाहते हैं कि प्रशासन की यहाँ पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था होनी चाहिए, ताकि फ़र्ज़ीवाड़ा कर रहे तत्वों पर कार्यवाही हो सके।
नोट-जिस पर्ची में यात्री का नाम और मोहर लगी है, वह फ़र्ज़ी है और ब्लैंक रसीद असली है।

Facebook Comments

Random Posts