नोटबंदी के खिलाफ ममता बनर्जी की अगुवाई में कई दलों ने निकाला राष्ट्रपति भवन तक मार्च

 mamta500

मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले के खिलाफ ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने आज संसद भवन से राष्ट्रपति भवन तक मार्च किया। मोदी सरकार द्वारा 500 और 1000 के नोटों पर बैन के विरोध में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री तथा तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने अपनी पार्टी के 44 सांसदों और कई दलों के साथ राष्ट्रपति डॉ प्रणब मुखर्जी को ज्ञापन सौंपने के लिए संसद भवन से राष्ट्रपति भवन तक एक किलोमीटर का पैदल मार्च किया। ममता बनर्जी ने कहा कि हमने राष्ट्रपति से अनुरोध किया है कि सरकार से बात करें और इस पर फैसला लें, जिससे कि देश में हालात पहले जैसे सामान्य हो जाएं।

गौरतलब है कि 500 और 1000 के नोट बंद करने के विरोध में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी ने आज बुधवार को राष्ट्रपति भवन तक मार्च निकाला। मोदी सरकार द्वारा बड़े नोट बंद किए जाने के बाद से ही ममता बनर्जी मुखर होकर लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस फैसले के खिलाफ बोल रही हैं।

इस मार्च में टीएमसी, एनडीए के सहयोगी दल शिव सेना, नेशनल कॉन्फ्रेंस और आम आदमी पार्टी समेत कई दलों के नेता मौजूद रहे। इस मार्च में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल शामिल नहीं हुए, हालांकि आप के सांसद भगवंत मान ने इसमें शिरकत की। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने इस मार्च की अगुवाई की। इससे पहले बुधवार को संसद परिसर में गांधी मूर्ति के पास टीएससी नेताओं ने काले शॉल ओढ़कर सरकार के इस फैसले के खिलाफ प्रदर्शन भी किया।

 

Facebook Comments

Random Posts