संदिग्ध परिस्थितियों में विवाहिता की मौत, सास और जेठ गिरफ्तार

अल्‍मोड़ा के रानीखेत में ताड़ीखेत ब्‍लॉक के टाना गांव में विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। इस मामले में शनिवार को सास और जेठ को गिरफ्तार किया है। कोतवाली पुलिस ने दोनों को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है। वहीं मामले में नामजद पति व जेठानी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। जानकारी के अनुसार ब्‍लॉक के थापला गांव निवासी शांति देवी पत्नी कुंदन सिंह की बेटी गीता देवी (22 वर्ष) का विवाह अप्रैल 2015 में रानीखेत में सेना में तैनात टाना गांव निवासी भरत सिंह पुत्र गणेश सिंह के साथ हुआ था। उनका नौ माह का पुत्र भी है।

पिछली 14 सितबंर को देर शाम विवाहिता गीता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। विवाहिता की मां शांति देवी ने सास हीरा देवी, पति भरत, जेठ नारायण सिंह और जेठानी जानकी पर दहेज हत्या का आरोप लगा और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की थी।

कोतवाली पुलिस ने शनिवार को मृतक की सास हीरा देवी व जेठ नारायण सिंह को टाना गांव से गिरफ्तार कर लिया, जहां से उन्हें अल्मोड़ा कोर्ट में पेश किया गया। वहां से उन्‍हें जेल भेज दिया गया। सीओ कमल राम आर्या के अनुसार मामले में नामजद पति व जेठानी के खिलाफ जांच चल रही है। जांच के बाद ही अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

Facebook Comments

Random Posts