विवाहिता को आग के हवाले कर फरार हो गए ससुराली

p-6500

उत्तराखंड के जनपद उधमसिंह नगर के किच्छा में दहेज की खातिर ससुरालियों ने नव विवाहिता पर मिट्टी का तेल छिडक कर आग के हवाले कर दिया और उसे कमरे में बंद करके फरार हो गए। सूचना पर पहुंचे मायके वालों ने बेटी की ससुराल पहुंच कर गंभीर रूप से झुलसी विवाहिता को अस्पताल पहुंचाया, जहां से उसे हल्द्वानी रेफर कर दिया गया। पीडित के भाई की तहरीर पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। सरकारी अस्पताल पहुंचे नायब तहसीलदार ने बुरी तरह झुलसी युवती के कलमबंद बयान दर्ज किए।

कोतवाली पुलिस को दी तहरीर में ग्राम सैंजना किच्छा निवासी मोहम्मद इश्हाक हुसैन ने कहा कि उसने अपनी बहन शबनम की शादी गत वर्ष 15 मार्च को रीति रिवाज के साथ ग्राम मामदपुर, बहेड़ी जिला बरेली निवासी अतीक अहमद पुत्र खलील अहमद के साथ धूमधाम से की थी। बहनोई अतीक अहमद की मांग पर एक बुलट मोटरसाइकिल व करीब दो लाख रुपये का घरेलू सामान दिया था। तहरीर में इश्हाक हुसैन ने कहा कि विवाह के कुछ दिनों बाद से बहनोई अतीक अहमद ने दो लाख रुपये और देने की मांग शुरू कर दी और मांग पूरी न होने पर उसने प्रार्थी की बहन शबनम के साथ मारपीट, गाली गलौच व अभद्रता प्रारम्भ कर दी।

तहरीर में उन्होंने कहा कि कई बार ससुरालियों को समझाने के बाद भी वे नहीं माने और कुछ माह पूर्व मारपीट कर शबनम को घर से निकाल दिया तथा तीन बार पंचायत होने के बाद बहनोई शबनम को मायके से ससुराल ले गए। इश्हाक ने बताया कि आज सुबह उन्हें किसी ने फोन कर बताया कि शबनम को उसके ससुराल वालों ने जला दिया है। जिस पर वह अन्य परिजनों के साथ शबनम की ससुराल पहुंचा तो घर के सभी लोग फरार हो चुके थे। बहन शबनम बुरी तरह झुलसी दर्द से कराह रही थी। शबनम ने बताया कि दहेज की मांग पूरी न होने पर पति अतीक अहमद, ससुर खलील अहमद, देवर शाहिद, सास सरवरी बेगम, नंदोई लहीक अहमद ने उस पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी और मौके से फरार हो गए।

Facebook Comments

Random Posts