चुनाव आयोग ने मोबाइल एप्लीकेशन व कम्प्यूटर साॅफ्टवेयर किया जारी

p-1500

निर्वाचन प्रक्रिया के प्रभावी क्रियान्वयन और पारदर्शी अनुश्रवण के लिए भारत के निर्वाचन आयोग द्वारा देहरादून में गुरुवार को सूचना प्रौद्योगिकी पर आधारित मोबाईल एप्लीकेशनों और कम्प्यूटर साॅफ्टवेयर को जारी किया गया। निर्वाचन आयोग की जिला निर्वाचन अधिकारियों व जिलाधिकारियों एवं पुलिस अधीक्षकों के साथ निर्धारित बैठक से पूर्व भारत के मुख्य निर्वाचन आयुक्त नसीम जैदी, निर्वाचन आयुक्त, ओपी रावत और एके ज्योति द्वारा यह एप्लीकेशन और साॅफ्टवेयर जारी किये गये। जारी किये गये एप्लीकेशनों में निवारण, सुविधा, सुगम और मोबाईल एप्लीकेशन सम्मिलित हैं। इस अवसर पर मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने कहा कि सूचना प्रौद्योगिकी पर आधारित एप्लीकेशनों के व्यापक प्रयोग से निर्वाचन प्रक्रिया के सभी क्षेत्रों में मजबूती आयेगी।

निर्वाचन आयोग द्वारा जारी किया गया निवारण कम्प्यूटर एप्लीकेशन, आॅनलाईन शिकायत पंजीकरण और समाधान व्यवस्था है, जिसके द्वारा नागरिकों, प्रत्याशियों आदि के द्वारा की गयी शिकायतों का अनुश्रवण किया जायेगा। यह शिकायतें मोबाईल, लैंडलाईन, एसएमएस, ई-मेल किसी भी माध्यम से की जा सकती हैं। सुविधा साॅफ्टवेयर राजनैतिक दलों एवं प्रत्याशियों के लिए चुनाव प्रचार से सम्बन्धित विभिन्न अनुमतियां प्राप्त करने के लिए सिंगल विन्डो सिस्टम है। आॅनलाईन साॅफ्टवेयर से संचालित इस व्यवस्था में 24 घण्टे के अन्दर आवेदन पर कार्यवाही करनी होगी। हैलीकाॅप्टर लैडिंग अनुमति के लिए यह अवधि 36 घण्टे हैं, आवेदन आॅनलाईन किये जा सकेंगे।

निर्वाचन कार्याे में अधिगृहीत किये जाने वाले वाहनों के प्रबन्धन के लिए सुगम साॅफ्टवेयर लाॅन्च किया गया है। मतदाताओं के लिए न्यूनतम सुनिश्चित व्यवस्थाओं के संग्रहण के लिए हेतु मोबाईल एप्लीकेशन भी लाॅन्च किये गये हैं। दिव्यांगों के मतदाता पंजीकरण और मतदान करने की व्यवस्था के प्रबन्धन के लिए ‘‘बूथ दोस्त’’ नामक एप्लीकेशन भी बनाया गया है।

Facebook Comments

Random Posts