मौनी अमावस्या स्नान पर्व आज, संगम नगरी में उमड़ा जनसैलाब

0

माघ मेले का प्रमुख स्नान पर्व मौनी अमावस्या आज है। मौनी अमावस्या स्नान पर्व पर रायबरेली में लिफ्ट कैनाल बंद कराए जाने के बाद गुरुवार की शाम तक पर्याप्त मात्रा में पानी प्रयाग पहुंच गया है। ऐसा प्रशासन का दावा है। इस महापर्व पर संगम में डुबकी लगाने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी है। प्रशासन का अनुमान है कि इस महापर्व पर करीब डेढ़ करोड़ लोग स्नान करेंगे। गुरुवार की शाम तक एक करोड़ श्रद्धालु मेला क्षेत्र पहुंच चुके थे।

पिछले तीन दिन से गंगा में पानी की कमी को लेकर संत आक्रोश जता रहे थे। मकर संक्रांति के मुकाबले मौनी अमावस्या पर्व पर स्नानघाटों की संख्या बढ़ाकर 18 कर दी गई है। शुक्रवार की भोर से ही स्नान शुरू हो जाएगा। शहर के जंक्शन, प्रयाग, दारागंज, नैनी एवं झूंसी रेलवे स्टेशन पर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ गुरुवार की देर रात पहुंच चुकी थी। स्नान पर्व पर सुरक्षा के लिहाज से व्यापक प्रबंध किए गए हैं। भारी वाहनों के शहर में प्रवेश पर रोक लगा दी गई है।

वाराणसी, भदोही से आने वाले वाहनों को हंडिया से डायवर्ट कर नवाबगंज बाईपास से भेजा जा रहा है। इसी तरह जौनपुर से आने वाले वाहनों को सहसों चौराहा, लखनऊ, रायबरेली और प्रतापगढ़ की ओर से आने वाले वाहनों को नवाबगंज सोरांव बाईपास, कानपुर से आने वाले वाहनों को कोखराज बाईपास और शंकरगढ़ से आने वाले वाहनों को गौहनिया घूरपुर कर्मा रोड की तरफ से डायवर्ट कर दिया गया है। प्रशासन ने चार पहिया वाहनों के लिए अतिरिक्त पार्किंग स्थल की व्यवस्था की है।

Facebook Comments

Random Posts