काम के प्रति लापरवाही…. मुख्यमंत्री के निर्देश पर नपे दरोगा….

0

देहरादून / राजधानी में केस रजिस्टर करने में हीला-हवाली करना नेहरू कॉलोनी थाने के एक सब इंस्पेक्टर पर भारी पड़ गया। पीडित  ने दो दिन पहले इसकी शिकायत मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मिलकर की थी। जिसके बाद एसएसपी ने नेहरू कॉलोनी थाने के सब इंस्पेक्टर बृजपाल सिंह को निलंबित कर दिया। उत्तराखंड में भय व अपराधमुक्त माहौल देने का वादा कर सत्ता में आई नई सरकार के निशाने ऐसे पुलिसकर्मी आ गए हैं जो शिकायतकर्ताओं की सुनने के बजाय उन्हें थाने चोकी से बाहर का रास्ता दिखा देते हैं।  नेहरू कॉलोनी क्षेत्र के एक शख्स ने एक मामले को लेकर स्थानीय पुलिस से न्याय की गुहार लगाई थी। लेकिन नेहरू कॉलोनी पुलिस ने उसकी बात को अनसुना कर दिया। इस बीच पीड़ित थाने का चक्कर लगाता रहा, लेकिन उस की सुनवाई नहीं हुई। सोमवार को पीड़ित  ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से उनके घर पर मुलाकात की और अपनी पूरी व्यथा उन्हें सुनाई। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इसे बेहद गंभीरता से लिया और उच्चाधिकारियों को जांच कर कार्रवाई का निर्देश भी दिया। एसएसपी स्वीटी अग्रवाल ने बताया कि नेहरू कॉलोनी थाने में तैनात सब इंस्पेक्टर बृजपाल सिंह पर एक शख्स ने मुकदमा दर्ज न करने आरोप लगाया है। जांच में प्रथम दृष्टया मामला सही पाए जाने पर सब इंस्पेक्टर को निलंबित कर दिया गया है। साथ ही मामले की जांच भी कराई जा रही है।

Facebook Comments

Random Posts