महिला की चोटी कटने से दहशत का माहौल

 
 चोटी कटी पीड़ित महिला।
  उत्तराखंड /रुद्रपुर/रूडकी

   तराई में चोटी कटवा का आतंक है। भूरारानी में एक किशोरी समेत दो महिलाओं की चोटी कट गई। इसके अलावा जिले में अन्य स्थानों पर भी चोटी कटने की वारदातें सामने आई हैं। जिसकी महिला की चोटी कटती है, उसके सिर में तेज दर्द और बेहोशी छाने की शिकायत हो रही है।

मंगलवार की सुबह महानगर से सटे ग्राम भूरारानी में प्रदीप की पत्नी 22 वर्षीय सुमन बीती रात घर में सो रही थी। रात करीब एक बजे वह बाशरूम गई थी। उसके बाद कमरा बंद करके फिर सो गई। सुबह छह बजे जब अपने बेटे पारस को स्कूल भेजने के लिए प्रदीप ने पत्नी को जगाया तो उसकी चोटी कटी हुई मिली और वह बेहोशी की हालत में थी। परिजनों ने तत्काल गांव के डाक्टर एसबी मलिक को बुलाया तो डाक्टर ने जांच की। सुमन का ब्लडप्रेशर बढ़ा हुआ था। उसने सिर में दर्द एवं उल्टी की शिकायत थी। परिजनों ने तत्काल एंबुलेंस 108 को फोन करके बुलाया। सुमन को तत्काल जिला अस्पताल ले जाया गया। मौके पर पुलिस भी पहुंच गई। सुमन के घर के बाहर गांव के तमाम लोगों की भीड़ जमा हो गई। हर कोई यह जानने की कोशिश कर रहा था आखिर चोटी कैसे कटी।

रुद्रपुर के बाद अब किच्छा में भी महिलाओं के बाल कटने की घटना से ग्रामीणों में भय का माहौल बनता जा रहा है । पुलभट्ठा क्षेत्र अन्तर्गत तीन गांव में चोटी कटने की घटना होने से ग्रामीणों में दहशत व्याप्त हो गयी। फिलहाल पुलभट्ठा थाना पुलिस ने मौके का मुआयना करने तथा ग्रामीणों से जानकारी हासिल करने के बाद मामले की जांच शुरू कर दी है। घटना की शिकार महिला व युवती का नगर के निजि अस्पताल में उपचार चल रहा है ।

जानकारी के अनुसार निकटवर्ती ग्राम सेतुईया निवासी चूरामणि की पुत्री सोनम के भी संदिग्ध अवस्था में बाल कटने का मामला प्रकाश में आया है। परिजनों के अनुसार सोनम घर के मुख्य द्वार के निकट खड़ी थी कि इसी दौरान वह अचानक बेहोश होकर नीचे गिर गयी। परिजन जब मौके पर पहुंचे तो सोनम के बाल कटे हुये थे और सोनम बेहोश थी। परिजन तुरन्त उसे उपचार के लिये नगर के निजि अस्पताल ले गये। जहां उसका उपचार चल रहा है। दूसरी घटना में निकटवर्ती ग्राम शंकर फार्म निवासी मेवा राम की पत्नी श्यामा देवी के भी बाल कटने का मामला प्रकाश में आया है । बेहोशी की हालत में पीड़िता श्यामा देवी को भी उपचार के लिये निजि चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। घटना की जानकारी पर एसआई चंद्र प्रकाश बवाड़ी व कांस्टेबिल नरेन्द्र पाल, ग्राम प्रधान गौरी शंकर गंगवार, ग्राम प्रधान छत्रपाल कश्यप सहित तमाम गणमान्य लोग मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों से घटना की जानकारी ली। फिलहाल घटना को लेकर क्षेत्र में चर्चाओं का दौर गर्म है। चर्चाओं के अनुसार ग्रामीण पूरी घटना को तंत्र मंत्र से जोड़कर देख रहे हैं। घटना की रोकथाम के लिये ग्रामीणों द्वारा तमाम टोटके किये जा रहे हैं । इधर निकटवर्ती ग्राम भंगा में भी एक महिला के बाल काटे जाने की चर्चायें क्षेत्र में जोरों से चल रही है। पुलभट्ठा थाना पुलिस ने ग्रामीणों से सचेत रहने तथा अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की है ।
परिजनों के साथ बैठी थी महिला अचानक कट गई चोटी
रुड़की में चोटी कटने का सिलसिला जारी है। एक के बाद चोटी कटने की घटना सामने आने से क्षेत्र की महिलाओं में दहशत का माहौल है तो वहीं लोगों ने इससे बचाव के लिए ओझा एवं मौलवियों का सहारा लेना शुरू कर दिया है। सोमवार रात करीब 9 बजे झबरेड़ा थाना क्षेत्र के लठारदेवा गांव में अपने परिवार के साथ बैठी महिला अंजुम पत्नी मुनीर की चोटी कटने का मामला सामने आया है। महिला परिवार के करीब 6 सदस्यों के साथ बैठी बातचीत कर रही थी तभी उसे अचानक चक्कर आये और वह बेहोश हो गयी। घरवालों ने उठाकर देखा तो महिला की चोटी कट चुकी थी। अचानक इस घटना से परिजनों समेत ग्रामीणों में दहशत का माहौल है। अब चाहे इसे अफवाह कहे या कुछ और लेकिन इस प्रकार की घटनाओं से चारो ओर दहशत फैली है।
Facebook Comments

Random Posts