राजनैतिक पार्टियों को दिसम्बर तक भरना होगा आयकर रिटर्न

0

 
आम बजट में राजनैतिक दलों को आयकर के दायरे में शामिल किए जाने के बाद से अब उन्हें हर साल दिसम्बर तक आयकर विवरण जमा करना होगा।
राजस्व सचिव हसमुख अधिया ने गुरुवार को यह बात कही। साथ ही उन्होंने साफ किया कि अगर ऐसा नहीं किया गया तो राजनीतिक दलों को मिली कर छूट खत्म की जा सकती है। राजस्व सचिव ने कहा कि राजनीतिक पार्टियों को चुनावी बाॅंड के जरिये मिला चंदा गोपनीय होगा और चंदा देने वाले की पहचान गुप्त रखी जाएगी। इतना ही नहीं, चुनावी बाॅंड के जरिये चंदा देने वालों की पहचान गुप्त रखने के लिए जनप्रतिनिधित्व अधिनियम को संशोधित किया जाएगा। इससे पहले वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार को पेश बजट में राजनीतिक दलों के चंदे में पारदर्शिता लाने के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाया था। इसके तहत पार्टियां एक व्यक्ति से दो हजार रुपये ही नकद चंदा ले सकेंगी। पहले यह राशि 20,000 रुपये थी। दानदाताओं का नाम उजागर करना होगा।

Facebook Comments

Random Posts