नब्ज टटोलने अंबिका सोनी देहरादून पहुंची

p-3500

प्रदेश में आगामी 2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस की अखिल भारतीय महामंत्री व प्रदेश प्रभारी अंबिका सोनी दून स्थित कांग्रेस भवन पहुंची और उन्होंने कहा कि चुनाव नजदीक है और चुनाव को लेकर अभी से ही रोड़मैप तैयार किया गया और हर मुददे पर चर्चा की गई, कार्यक्रर्ताओं व पदाधिकारियों से मिलने के लिए सायं के समय एक घंटा रखने पर चर्चा की गई और सुझाव मांगें गये और उसमें विस्तार से चर्चा कर जिम्मेदारियां सौंपी गई।

यहां कांग्रेस भवन पहंुचने पर संवाददाताओं से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश में विधानसभा चुनाव निकट आ रहे है, पार्टी की सरकार दुबारा बनायेंगे इसके लिए चर्चा की गई और जनता से लोक कल्याणकारी वायदे पूरा करने का फिर से वचन देंगें, अलग अलग बैठक कर उनकी राय लेगें। रात को एक घंटा रखा है मिलने के लिए और पार्टी को मजबूत करने के लिए क्या क्या उचित कार्य करने होंगें पर चर्चा की गई। चुनाव के लिए रोडमेप तैयार किया गया और कार्यकर्ताओं की जिम्मेदारी दी गई और जहां पर कमी है उसे किस प्रकार से पूरा करना है पर विस्तार से चर्चा की गई । तीन बजे ब्लाक जिला अध्यक्षों, कार्डिनेशन कमेटी, विधायक व मंत्रियों के साथ बैठक की गइ्र और आवश्यक निर्देश दिये गये। गुटबाजी को दूर करने का प्रयास किया गया और पाया की इस समय किसी भी प्रकार की कोई गुटबाजी सामने नहीं आई है।

उन्होंने कहा कि हमारा एक तरीका काम करने का है हमें राय देने व बात रखने का अधिकार है पार्टी का नेतृत्व अंतिम निर्णय होता है वह सभी के लिए मान्य है। भाजपा ने एक चुनी हुई सरकार को गैर कानूनी ढंग से हटाया है और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय व सीएम हरीश रावत ने पार्टी को जिंदा रखा और भाजपा को उच्च न्यायालय व सर्वोच्च न्यायालय से करारा झटका लगा और प्रदेश में फिर से कांग्रेस की सरकार सत्तासीन हुई।

उनका कहना है कि वह जब क्षेत्रों में जाती है तो वहां की स्थिति का पता चलता है और उन्हें सुधारा जाता है। उनका कहना है कि पार्टी में मतभेद होने का कोई प्रश्न नहीं है और जनता की आवाज को बुलंद किया जाता है सरकार का भी यह दायित्व होता है। सबसे बडा चैलेंज पीडीएफ है और चुनाव में पीडीएफ की भूमिका में सीएम व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष व पीडीएफ के लोगों से भी अलग से वार्ता की जायेगी। क्या क्या वायदे किये है यह बैठक के बाद ही बताया जायेगा और सोनिया गांधी व राहुल गांधी कब आयेंगें, पर भी विस्तार से चर्चा की गई।

उनका कहना है कि हमारे पास लोगों का प्यार है और भाजपा के पास धन बल है और केन्द्र में उनकी सरकार है। वहीं संगठन पर लगाम कसने की चर्चा है। हरीश रावत ने कहा है कि चुनाव पर चर्चा की जायेगी। उनका कहना है कि छोले भटूरे खायेंगें और कार्यकर्ताओं के साथ कैंट रोड स्थित आवास पर बैठक करेंगें, विधायकों की बैठक व मंत्रियों की बैठक की गई और कई अहम निर्णय लिये गये।

बैैठक में एक बार फिर से सत्तासीन होने के लिए कांग्रेस में ताकत आ गई है, आधे लोगों को मैं ही लाया और प्रसिद्धि दिलायी और आज वह कांग्रेस छोडकर कहीं और चले गये और उनमें विजय बहुगुणा प्रमुख है। वह भी कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गये है, ऐसे कई मुददे है जिन पर चर्चा की गई। उनका कहना है कि 18 मार्च की घटनाक्रम को भी इस बैठक में लाया गया और जिस पर भाजपा की व्यापक स्तर पर निंदा की गई और इस घटनाक्रम को जनता के बीच ले जाने का निर्णय लिया गया। वहीं प्रदेश सह प्रभारी संजय कपूर दून पहुंचे और वह भी चुनाव के लिए रोडमैप बनाने में अपनी अहम भूमिका निभाई।

Facebook Comments

Random Posts