नई गाड़ियों से राज्य पुलिस को मिलेगी रफ्तार

 

उत्तराखण्ड पुलिस जल्द ही नए कलेवर में नजर आएगी क्योंकि इसकी क्षमताएं और रफ्तार बढ़ने जा रही है. दरअसल इस वित्तीय वर्ष में पुलिस के लिए स्वीकृत साढ़े चार करोड़ रुपये स्वीकृत हुए थे जो तकनीकी कारणों से अटक गए थे. अब यह जारी हो गए हैं। उत्तराखंड पुलिस को मॉर्डनाइजेशन के लिए केंद्र सरकार से 4 करोड़, 57 लाख का बजट केंद्र से स्वीकृत हुआ था. तीन करोड़ 65 लाख रुपये राज्य सरकार ने भी देने थे, जो तकनीकी वजह से अटक गए थे. अब यह रिलीज कर दिए गए हैं।

एडीजी राम सिंह मीणा के मुताबिक राज्य सरकार से 3.65 करोड़ रुपये जारी हो गए हैं जो मोबिलिटी (गाड़ियों के लिए) और उपकरणों की मद में खर्च किए जाने हैं. उत्तराखंड पुलिस इनसे बॉडी वॉर्म कैमरे, सोनार सिस्टम, अंडर वाटर राडार मुख्य हैं।

इसके अलावा कुछ अन्य उपकरण भी खघ्रीदे जाने हैं जिनमें इंटेलीजेंस के लिए कुछ उपकरण खघ्रीदे जाने हैं. इस राशि में .5 फीसदी होमगार्ड्स का भी हिस्सा है जिससे उनके लिए हथियार खरीदे जाने हैं। राज्य पुलिस को केंद्र सरकार से इन्सेंटिव के तौर पर 2 करोड़, 73 लाख रुपये इंसेंटिव के रूप में मिले हैं और इन्हें भी गाड़ियों और उपकरणों पर खर्च किया जाना है. इस पर राज्य सरकार की अनुमति का इंतजार है।

 

 

 

Facebook Comments

Random Posts