फरियादियों की शिकायतें आखिर सुनेगा कौन!

कोटद्वार में मंगलवार को आयोजित तहसील दिवस में उसी समाज कल्याण विभाग के अधिकारी नदारद रहे। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसडीएम ने समाज कल्याण अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई करने की संस्तुति की है। साथ ही अन्य विभागों के नदारद अधिकारियों के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए। वहीं, तहसील दिवस में आई 46 शिकायतों में से मौके पर कुल आठ शिकायतों का ही निस्तारण हो पाया। अन्य शिकायतों को 15 दिनों के भीतर निस्तारित करने के निर्देश दिए गए हैं।

मंगलवार को तहसील में आयोजित तहसील दिवस में एसडीएम राकेश तिवारी ने फरियादियों की शिकायतें सुनी। इस दौरान सभी विभागों के अधिकारी मौजूद रहे। तहसील दिवस में, लोक निर्माण विभाग की पांच, ऊर्जा निगम की दो, जल संस्थान की तीन, वन विभाग की एक, ¨सचाई विभाग की दो, राजस्व विभाग की सात, कोतवाली की तीन, पूर्ति विभाग की एक, कोषाधिकारी की एक व सीडीपीओ से संबंधित एक शिकायत पहुंची। तहसील दिवस में सबसे अधिक समाज कल्याण विभाग की 20 शिकायतें पहुंची। इस दौरान एसडीएम ने मौके पर ही आठ शिकायतों का निस्तारण किया, जबकि अन्य शिकायतों के निस्तारण के लिए संबंधित विभाग के अधिकारियों को जल्द निस्तारण करने के निर्देश दिए। इस दौरान तहसीलदार सीएस रावत समेत अन्य मौजूद रहे।

Facebook Comments

Random Posts