पाखंडी बाबाओं को जेल जाना होगा तभी होगा देश का उद्धार: अग्निवेश

उत्तराखंड /रूडकी
 आर्यसमाजी संत एवं पूर्व मंत्री स्वामी अग्निवेश आज रुड़की में पत्रकार वार्ता की इस दौरान उनके निशाने पर फर्जी और पाखंडी बाबा रहे। उन्होंने कहा लोगों के अंधविश्वास के कारण ही इस प्रकार के बाबा फलफूल रहे है। उन्होंने कहा सभी पाखंडी बाबाओं को जेल जाना होगा  तभी देश का उद्धार होगा। स्वामी अग्निवेश ने एक यात्रा यूनाइट्रेट इंटर नेशल डे फार पीस के मौके पर हरिद्वार के वैदिक मोहन आश्रम से यात्रा निकाली गई । जहां पर आज से डेढ़ सौ साल पहले आर्य समाज के संस्थापक महर्षी दयानंद ने पाखंडियों के खिलाफ पताका गाड़ा था। यात्रा का मकसद है कि इस प्रकार पाखंड फैला रहे लोगों को समाज से बाहर निकाला जाए। वही स्वामी अग्निवेश ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा में अपने पहले भाषण में कहा था कि गरीबी तब तक नहीं मिटेगी जब तक अंधविश्वास नही मिटेगा ।
उन्होंने प्रधानमंत्री से आह्वान किया कि मोदी जी अब अंधविश्वास मिटाने का वक्त आ गया है जिसके लिए आर्य समाज ने लड़ाई छेड़ दी है।उन्होंने कहा कि पाखंडी आशाराम, रामपाल, रामरहीम को जेल तो भेज दिया लेकिन अभी भी समाज में हजारों की संख्या में पाखंडी हैं । पाखड़ी नकली ढोंग रचकर बलात्कार,हत्या लूट जैसी घटनाओं को अंजाम दे रहे । इसलिए हम सबको जागना होगा और इन पाखंडियो को खदेड़ना होगा तभी हमारा देश सुंदर स्वस्थ और सुरक्षित होगा । वार्ता के दौरान समाजसेवी मुजीब मलिक, वाईपी सिंह, सीए हेमंत अरोड़ा, मनोहर मानव, कल्याण सिंह आदि लोग उपस्थित रहे।
Facebook Comments

Random Posts