इस वजह से हो रही है दो भारतीय बल्लेबाज़ों की तुलना

 

0

कोई चाहे या नहीं चाहे, दिग्गजों के बीच तुलना तो होती ही है। पहले क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर की ऑस्ट्रेलियाई धुरंधर डॉन ब्रेडमैन से होती थी तो अब भारतीय कप्तान विराट कोहली की सचिन से होने लगी है। हालांकि दो क्रिकेटरों की रणनीति, तकनीक, नजरिया और खेलने का तरीका अलग-अलग है, लेकिन प्रशंसकों का अपने हीरो को आंकने का तरीका तुलनात्मक ही रहता है। एक समय तेंदुलकर धड़ाधड़ क्रिकेट के सारे रिकॉर्ड तोड़ रहे थे। अभी भी बल्लेबाजी के बड़े रिकॉर्ड उनके नाम ही हैं। तब उनकी तुलना ब्रेडमैन से की जाती थी। टेस्ट में बल्लेबाजी औसत के रिकॉर्ड को छोड़ दें तो सचिन ब्रेडमैन से काफी आगे हैं। अब कोहली लगातार रन बना रहे हैं तो उनकी तुलना सचिन से हो रही है। निसंदेह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आगामी टेस्ट सीरीज में कोहली नए आयाम छूना चाहेंगे। ऐसा करने में कामयाब होते हैं तो वह एक नई लकीर भी खींच देंगे

Facebook Comments

Random Posts