उत्तराखंड के मदरसे भी होंगे हाईटेक

बदलते जमाने के साथ अब मदरसा बोर्ड ने भी राज्य के मदरसों को हाईटेक बनाने की ओर कदम बढ़ाए हैं। इस कड़ी में अब अगले शिक्षण सत्र से छात्रों को परीक्षा के लिए ऑनलाइन नामांकन करना होगा। इसके लिए उत्तराखंड मदरसा बोर्ड ने सॉफ्टवेयर तैयार कर लिया है। राज्य में मदरसों की हालत सुधारने और यहां शिक्षा ग्रहण करने वाले बच्चों को अन्य बोर्ड के समकक्ष लाने को मदरसा बोर्ड लगातार नए प्लान पर काम कर रहा है। मदरसा बोर्ड ने आवेदन के लिए भी ऑनलाइन सिस्टम तैयार कर लिया है। इतना ही नहीं अब नामांकन करने के लिए बच्चे मदरसा बोर्ड की वेबसाइट पर जाकर घर से ही सीधे आवेदन कर सकेंगे। अगले सत्र से पूरी तरह से इसी प्रक्रिया पर काम किया जाएगा। फिलहाल इस सत्र के लिए पुरानी प्रक्रिया पर ही काम चलेगा।

मदरसा बोर्ड ने मदरसों का एग्जाम पैटर्न भी बदला है। अब मदरसों में पढने वाले बच्चों को दस की जगह छह ही पेपर देने होंगे। बोर्ड को उत्तराखंड बोर्ड के समकक्ष लाने के लिए एग्जाम पैटर्न बदला है। वर्तमान में मदरसों में दो प्रकार का सिलेबस पढ़ाया जाता है, पहला धार्मिक और दूसरा मॉडर्न। धार्मिक सिलेबस की अब सिर्फ दो परीक्षाएं होंगी। जबकि म ॉडर्न सलेबस में हिंदी, गणित, सामाजिक विज्ञान, विज्ञान, कंप्यूटर विज्ञान में से छात्र को कोई भी चार विषय चुनने होंगे।

प्रदेश में फिलहाल 297 मदरसे हैं। इनमें से 42 मदरसे ऐसे हैं जो बोर्ड परीक्षा कराते हैं। साथ ही इन मदरसों में करीब 30 हजार बच्चे शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं, जिनमें से इस साल छह हजार से ज्यादा छात्रों के बोर्ड परीक्षा में शामिल होने की उम्मीद है। उत्तराखंड मदरसा बोर्ड के उप रजिस्ट्रार अखलाक अहमद ने बताया कि मदरसा बोर्ड ने परीक्षा के लिए नामांकन प्रक्रिया को ऑनलाइन करने का निर्णय लिया है। इसके लिए सॉफ्टवेयर तैयार हो चुका है। साथ ही अब छात्रों को दस के बजाए मात्र छह एग्जाम देने होंगे।

मुख्य सचिव ने विधेयक या अध्यादेश को बगैर न्याय या विधायी विभाग के परामर्श के कैबिनेट में प्रस्तुत नहीं करने के निर्देश दिए हैं। विधेयकों, अध्यादेशों व विनियमावलियों में हिंदी और अंग्रेजी में भाषायी त्रुटियों को दूर करने के निर्देश प्रशासकीय विभागों के सचिवों को दिए गए हैं। कैबिनेट में रखे जाने वाले प्रस्तावों को अनिवार्य रूप से सात दिन पहले सभी औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद गोपन विभाग को मुहैया कराना होगा।

 

 

Facebook Comments

Random Posts