क्या उत्तराखंड भी बन गया है बिहार ,आखिर कब होगा राजनीती का काला चेहरा साफ़ ..?

 

dsc03928dsc03931-1dsc03929

 

देवभूमि कहे जाने वाले उत्तराखंड में सफ़ेद पोस नेताओं का गुंडा राज कायम हो गया है .लगातार हो रहे कारनामो से यह तो स्पष्ट होता जा रहा है कि हर जन प्रतिनिधि अपनी दबंगई के सहारे चुनाव में उतरे है… देव भूमि में भी विdsc03925धायकों का गुंडा_राज कायम है आखिर जब उत्तराखंड मे गुंडा राज होना ही था तो उत्तरप्रदेश से अलग राज्य बनाने की क्या ज़रूरत थी ?? देवभूमि मे जहा देवो का वास हुआ करता था वही अब राजनेताओ और उनके गुंडों का राज हुआ करता है . उत्तराखंड भी बिहार की तर्ज पर यहाँ राजनीती शुरू हो चुकी है मार पीट , गुंडा गर्दी ,लोगो को धमकाना इसमें अब मुख्य बन चुके है पहले बिहार की राजनीती मे यहाँ सब देखने को मिलता था लेकिन अब उतराखंड मे भी चुनाव के समय देहरादून , कोटद्वार ,धनोल्टी, बद्रीनाथ व अन्य सीटो पर मारपीट की घटनाओ ने ये साबित कर दिया है कि देवभूमि कही बिहार तो नहीं बनाने जा रहा है देव भूमि हमेशा से ही शांत और सुरक्षित मन जाता रहा है लेकिन अपनी राजनीती को चमकाने के चक्कर मे जन प्रतिनिधि इस हद तक गिर रहे है यहाँ देखने को मिल रहा है….आखिर क्यों ये जनप्रतिनिधि जनता की भावनाओ के साथ खेल रहे है ..? हाल मे ही रायपुर विधानसभा से भाजपा प्रत्यासी के खिलाफ रायपुर थाने में शिकायती पर दिया है , वही बीजेपी प्रत्यासी पर उनके कार्यकर्ताओ द्वारा निर्दलीय प्रतयाशी के कार्यकर्ताओं से मार पीट का हवाला दिया गया है ,जिस पर पुलिस द्वारा बिबेचना की जा रही है आखिर क्या है ये सब ..? धनौल्टी विधानसभा के बीजेपी प्रत्याशी नारायण सिंह राणाजी के सांथ थत्यूड़ के ग्राम भाल मराड़ गांव में निर्दलीय प्रत्याशी प्रीतम पंवार के समर्थको ने अभद्रता एवम् मारपीट गाड़ी तोड़ी गई । उसके बाद पुलिस प्रशासन वहां पहुंचा उनके सांथ भी अभद्रता व गाली गलौज की सूचना मिली ।
साथ ही साथ  हल्द्वानी में भाजपा उम्मीवार जोगेन्द्र सिंह रौतेला पर कांग्रेस के दबंगो द्वारा हमला किया गया। बावजूद इसके कि इन घटनाओ के बारे में तहरीर दी गई हैं पुलिस द्वारा समुचित कार्यवाही नहीं की गई है। उन्होंने कहा कि इस बारे में भाजपा की ओर से प्रदेश निर्वाचन अधिकारी से शिकायत की जा रही है कि इस सम्बन्ध में तत्काल कारवाई की जाये। जिससे जहाँ मतदान में कोई गड़बड़ी न हो व लोग बिना भय के मतदान कर सकें। इसके अलावा दोषियों के खिलाफ भी तुरन्त कार्यवाही की जाए। वहीँ कोटद्वार में सोमवार देर रात को भाजपा और कांग्रेस कार्यकर्ता किसी बात को लेकर आपस में भिड़ गए। भाजपा प्रत्याशियों का आरोप है कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा प्रत्याशी हरक सिंह रावत पर हमला बोल दिया । इस दौरान पुलिस बल ने भी हंगामे को शांत कराने का भरसक प्रयास किया, लेकिन दोनों पक्षों ने कोतवाली में भी जमकर हंगामा व तोड़फोड़ की । जब कार्यकर्ता नहीं माने तो पुलिस ने लाठीचार्ज कर उन्हें कोतवाली पहुंचाया । आरोप है कि किसी बात पर दोनों दलों के कार्यकर्ताओं में नोकझोंक हुई, और हाथापाई तक की नौबत आ गई । कार्यकर्ता अपने-अपने प्रत्याशी के पक्ष में नारेबाजी करने लगे । दोनों ही पक्षों ने एक दूसरे पर वोटरों को धमकाने व मारपीट करने का आरोप लगाया । इन सब घटनाओ से ये तो साफ़ जाहिर हो ही रहा है अगर ऐसा ही हाल रहा उत्तराखंड का तो दूर नहीं देवभूमि बिहार बनाने की कगार से ।

Facebook Comments

Random Posts