किसने बनाया गली-मोहल्लों मे अपना नया ठिकाना …पढिये यहाँ

0

हल्द्वानी / उच्चतम न्यायालय के आदेशों के बाद राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित मदिरा की दुकानें व बारों को हटाने के लिये आबकारी महकमे ने कमर कस ली है। कहने को 31 मार्च बीत जाने के बाद दुकान स्वामियों को 1 माह का समय दिया गया है। अब दुकानें 30 अप्रैल के बाद ही आवंटित होंगी। इसी के चलते महकमे ने मदिरा की दुकान सजाने के लिये जगह ढूंढने का समय दे दिया है। दुकान स्वामी जहां एक ओर मदिरा की दुकान खोलने  के लिये जगह ढूंढ रहे हैं, वहीं शराब पीने के शौकीन शराब न मिलने से नगर में डोलते  हुए नजर आ रहे हैं। शुक्रवार को नगर की मदिरा की सभी दुकानें शाम सात बजे ही बंद हो गई थीं जिससे पियक्कड़ों को शराब न मिलने की वजह से परेशानियों का सामना करना पड़ा। मदीरा के शौकीन शराब की दुकानों को ढूंढने के लिये दूर-दराज तक जा पहुंचे। कई दुकान स्वामियों ने मार्च का महीना शुरू होते ही शराब के दामों में भारी मात्रा में छूट दी थी , लेकिन बीती रात शराब की दुकानें जल्दी ही बंद कर ब्लैक में बेचना शुरू कर दिया था। शराब के शौकीनों ने बीती रात महंगे दामों में शराब खरीद कर यह साबित कर दिया कि शराब कितनी भी महंगी हो जायें लेकिन वह पीना नहीं छोड़ेंगे। ऐसे में लगता है कि शराबियों की तादाद दिन-प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। अब देखना यह है कि शराब की दुकानें सजने के लिये जगह मुहैया होती है या नहीं या फिर  नगर में जगह मुहैया न होने से शराब की दुकानें बंद रहेंगी। अगर दुकानें बंद रहीं तो शराब खरीदने  के लिये ग्राहक आखिर  कहां जायेंगे या शराब के शौकीनों को दर-दर भटकना पड़ेगा।

Facebook Comments

Random Posts