बादल फटने से मकान ढहा

पिथौरागढ़। धारचूला के हाट गांव से लगभग 300 मीटर की ऊंचाई पर बादल फटने से पानी की धारा फूट पड़ी। इससे हुए भूस्खलन से हाट गांव में एक मकान ध्वस्त हो गया। कमरों में घटना के समय किसी के नहीं होने से जनहानि नही हुई। पांच मकान खतरे में आ गए है। इन परिवारों को अन्यत्र शिफ्ट कर दिया है।
मलबे की चपेट में आने से घौलीगंगा हाइड्रो प्रोजेक्ट से ग्रिड तक जुड़ी लाइन का एक टावर भी आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हुआ है। धारचूला क्षेत्र में रात भर बारिश हुई थी और सुबह थम गई। बाद में धारचूला नगर से लगभग दो किमी दूर हाट गांव क्षेत्र में कुछ देर तेज बारिश हुई। ग्रामीणों के अनुसार इस दौरान गांव से लगभग 300 मीटर ऊंचाई पर पहाड़ में तेज आवाज हुई और पानी की धारा फूटने लगी। पानी के साथ मलबा आने लगा गांव में कन्याल भवन मलबे की चपेट आकर ध्वस्त हो गया। गनीमत रही कि पूरा मलबा गांव और टनकपुर तवाघाट हाईवे तक नहीं पंहुचा। अन्यथा भारी नुकसान हो जाता। सडक़ में आए मलबे को हटा दिया है। क्षेत्र की दुकाने बंद करा दी है। ग्रामीण दहशत में है। राजस्व दल और पुलिस गाव में पहुंची है।

Facebook Comments

Random Posts