महिला को चिकित्सक की लापरवाही पड़ी भारी

रुड़की में नसबंदी का ऑपरेशन कराने आई एक महिला को चिकित्सक की लापरवाही भारी पड़ गई। आरोप है कि महिला को ऑपरेशन के लिए टेबल पर लेटा दिया गया। उसके पेट पर चीरा भी लगा दिया गया, लेकिन जब ऑपरेशन के लिए डॉक्टर ने दूरबीन लगाई तो वह उसमें कुछ तकनीकी दिक्कत आ गई। बाद में डॉक्टर ने हरिद्वार से दूसरी दूरबीन मंगाई। इस दूरबीन को आने में करीब दो घंटे लगे, तब तक मरीज टेबल पर तड़पती रही। आरोप है कि महिला के विरोध करने पर डॉक्टर ने उसे थप्पड़ भी मारे। महिला के पति ने मामले की शिकायत सीएमएस से की है। सीएमएस ने कार्रवाई का भरोसा दिलाया है।

पुरानी तहसील निवासी एक युवक ने सिविल अस्पताल के सीएमएस डॉ. अर¨वद कुमार मिश्रा को बताया कि उनके क्षेत्र की आशा उसकी पत्नी को नसबंदी का ऑपरेशन कराने के लिए दो दिन पहले अस्पताल लेकर आई थी। युवक ने बताया कि उसकी पत्नी को बिना बेहोशी का इंजेक्शन लगाए ही ऑपरेशन टेबल पर लेटा दिया गया और चिकित्सक ने पेट पर चीरा भी लगा दिया। जब डॉक्टर ने ऑपरेशन के लिए दूरबीन लगाई तो उसमें कुछ तकनीकी दिक्कत आ गई। इस पर चिकित्सक ने हरिद्वार से दूसरी दूरबीन मंगवाई। इस प्रक्रिया में करीब दो से ढाई घंटे का समय लगा।

इस दौरान उनकी पत्नी पेट कटी हालत में ऑपरेशन टेबल पर ही दर्द से कराहती रही। उसकी पत्नी ने इसका विरोध किया तो चिकित्सक ने उसको थप्पड़ मारे। हरिद्वार से दूरबीन आने के बाद उसका ऑपरेशन हो सका। सीएमएस डॉ. अर¨वद कुमार मिश्रा ने बताया कि नसबंदी के ऑपरेशन के लिए हरिद्वार से टीम आई थी। युवक की ओर से की गई शिकायत के संबंध में सीएमओ हरिद्वार को अवगत कराया जाएगा। युवक से लिखित में शिकायत मांगी गई है। सीएमएस ने मामले में कार्रवाई का भरोसा दिया है।

 

 

Facebook Comments

Random Posts