महिला अपने बच्चे को मायके को छोड़ प्रेमी संग फरार

काशीपुर में जेवरात लेकर फरार युवती व उसके प्रेमी को ठाणे पुलिस ने मोहल्ला महेशपुरा में हिरासत में ले लिया है। साथ ही पुलिस ने युवती के सोने के दो हार बैंक में गिरवी रखने वाली महिला को भी उसके घर से गिरफ्तार कर लिया है। महिला से पूछताछ के बाद पुलिस आरोपी युवक के घर रामपुर में जेवरात बरामदगी के लिए रवाना हो गई है। टांडा, रामपुर निवासी अब्दुल्ला की मुंबई में कॉस्टमेटिक की दुकान है। कुछ माह पहले दुकान में सामान लेने आई एक युवती से मुलाकात हुई। जिसके बाद अक्सर दोनों की मोबाइल पर बात होने लगी। बात करते-करते दोनों एक दूसरे से प्यार करने लगे। दोनों एक साथ रहने की कसम खा ली।

पुलिस के मुताबिक एक माह पहले युवती के पति सिरड़ी चले गए तो उसने मौका पाकर घर में रखे करीब 50-60 तोले के सोने के जेवरात समेटकर अपने चार वर्षीय बेटे के साथ मायके चली गई। बेटे को मायके छोड़कर वह अपने प्रेमी संग फरार हो गई। युवक ने प्रेमिका के जेवरात को रखवाने के लिए मोहल्ले के ही एक युवक से मदद मांगी। इस बीच युवती के पति की तहरीर पर ठाणे पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 406 में केस दर्ज कर लिया।

साथ ही आरोपी को पकड़ने के लिए पुलिस सक्रिय हो गई। इधर, युवक ने अपनी परिचित एसडीएम कोर्ट कचहरी मार्ग के सामने रहने वाली एक महिला के यहां कुछ जेवरात रखवा दिए। ठाणे पुलिस ने शनिवार रात यहां आई और कोतवाली पुलिस को साथ में लेकर फरार आरोपी युवक व उसकी प्रेमिका को मोहल्ला महेशपुरा में दबिश देकर हिरासत में ले लिया। युवती के पास से सोने के कंगन जैसे कुछ जेवरात बरामद कर लिए। प्रेमी व प्रेमिका तीन दिन पहले से महेशपुरा में किराये पर रह रहे थे।

पुलिस ने कचहरी मार्ग के सामने रहने वाली महिला के घर भी दबिश देकर उसे हिरासत में ले लिया है। महिला ने करीब 20 तोले से अधिक सोने के दो गले के हार बैंक में गिरवी रखने की बात कबूली। बताया कि उनके मोहल्ले में एक डेंटिस्ट रहता था। कुछ साल पहले वह अपना मकान बेचकर रामपुर चला गया। उससे उनकी जान पहचान है। एक सप्ताह पहले एक युवक का उनके मोबाइल पर फोन आया और उसने डेंटिस्ट का रेफरेंस देकर बात करने लगा। बात ही बात में उसने सोने के दो हार बेचने को कहा। जिसका वजन करीब 20 तोले से अधिक होगा। कई बार मना करने पर भी वह हार बेचने की जिद करने लगा, मगर उन्होंने मना कर दिया।

 

Facebook Comments

Random Posts